चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

क्षेत्र में दाल दलहन का बड़ा बाजार है इसे शुरू कर स्वावलंबी बने समूह । योगी

राष्ट्रीय जीविका मिशन की दो दिवसीय कार्यशाला संपन्न मास्टर ट्रेनर समूह प्रधान को दी समूह संचालन की जानकारी।

देवास 31 दिसम्बर 【चेतना न्यूज़】 बागली क्षेत्र में राष्ट्रीय जीविका मिशन द्वारा संचालित समूह की कार्यशाला बागली कार्यालय में रखी गई। इस दौरान राष्ट्रीय जीविका मिशन के जिला परियोजना अधिकारी प्रेमचंद यादव बागली विकासखंड प्रभारी केवल राम तवंर एवं मास्टर ट्रेनर अनिल मुकाती ने दो दिवसीय कार्यशाला के दौरान प्रमुख रूप से समूह को बचत करने की बातें बताई तथा नगद रहित भुगतान करने के डिजिटल उपाय के विषय में बताया। कार्यशाला के अंतिम दिन विशेष अतिथि के रूप में बेहरी के उप सरपंच हीरालाल गोस्वामी बागली प्रेस क्लब के सुनील योगी उपस्थित रहे। इस दौरान महिलाओं को क्षेत्र की भौगोलिक परिदृश्य एवं उत्पादन के हिसाब से स्वावलंबी बनने के तरीके बताए गए। कार्यशाला के दूसरे दिन अतिथियों का अभिनंदन समूह की दीदियों ने किया अतिथि उद्बोधन में हीरालाल गोस्वामी ने बताया कि क्षेत्र में महिलाएं ईट भट्टे का रोजगार भी कर सकती है। इसकी आवश्यकता वर्तमान समय से लेकर आने वाले समय तक बनी रहेगी वर्तमान में उज्जैन सोनकच्छ या अन्य स्थानों से महंगे दामों पर ईट खरीदी जाती है। क्षेत्र की कई महिलाएं गुजरात आदि क्षेत्र में जाकर इस व्यवसाय में मजदूरी करती है। महिला समूह मिलकर इसका उत्पादन करें तो सकल घरेलू उत्पाद में बचत के साथ साथ स्वावलंबी बनने का साधन भी बन जाएगा। इसी दौरान क्षेत्र की उत्पादन स्थिति पर ध्यान आकर्षित करते हुए सुनिल योगी ने बताया कि पूरे क्षेत्र में खाने पीने की वस्तुओं में सबसे बड़ा मार्केट दलहन का है। और बागली उदय नगर हाटपिपलिया क्षेत्र में दलहन फसलों में लाल तुवर उड़द मसूर एवं चना अच्छी मात्रा में किसानों द्वारा उत्पादित किया किया जाता है। दाल बनाने का गृह उद्योग भी महिला समूह के लिए स्वावलंबी उद्योग है आरंभ में कुछ समूह मिलकर इसका आरंभिक काम शुरू करें इसके उपभोक्ता भी महिला समूह के सदस्य ही है उन्हें मार्केट तलाशने की आवश्यकता नहीं इसका मार्केट आसानी से घर परिवार एवं गांव में ही उपलब्ध है। और यह महिला की रुचि कर इकाई भी है। इसलिए बचत समूह इस रोजगार को उपयोग में लेगी तो स्वावलंबी बनने के साथ-साथ जिले में यह इकाई बड़ा ब्रांड बन सकती है। इस दौरान 20 से अधिक महिला समूह प्रभारी आवासीय प्रशिक्षण के दौरान आयोजित शिविर में रुकी । प्रशिक्षित महिलाएं मास्टर ट्रेनर के रूप में अन्य समूह में ट्रेनिंग प्रदान करेगी उक्त जानकारी बागली विकासखंड प्रभारी केवलराम तवर ने देते हुए बताया कि वर्तमान में 10,000 से अधिक महिला सदस्य समूह के माध्यम से जुड़ चुकी है। 900 समूह संचालित है पूरे बागली विकासखंड में रोजगार मिशन के तहत मुख्य उद्देश्य है कि यह समूह बचत को और बढ़ाने के साथ-साथ स्वयं की आय अर्जित करने में सक्षम बने।


Share News

whatsapp